कोरबा। जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ पार्टी के अध्यक्ष अमित जोगी ने कहा है कि वे अब जनता की अदालत में न्याय मांगेंगे उसके बाद अन्य निर्णय लेंगे। श्री जोगी ने india star news से मोबाइल के माध्यम से बातचीत करते हुए जानकारी दी है कि जाति प्रमाण पत्र के सवाल पर उनकी और उनकी धर्मपत्नी का नामांकन रद्द कर दिया गया है। जोगी परिवार के साथ अन्याय हुआ है मरवाही विधानसभा क्षेत्र की जनता यह देख रही है। श्री जोगी ने कहा कि मैं अब जनता की अदालत में जाकर न्याय मांगूंगा, उन्होंने बताया कि नामांकन खारिज करने की वजह से अब जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ का प्रत्याशी चुनाव मैदान में नहीं उतरेगा। नियमतः प्रावधान यह है कि 2 प्रत्याशियों को ही नामांकन के साथ बी फार्म जमा कराए जाने का प्रावधान है चूंकि अमित जोगी और उनकी धर्मपत्नी बी फार्म जमा कर चुकी थी लिहाजा अब तीसरे प्रत्याशी को बी फार्म देने का सवाल ही नहीं उठता है। अमित जोगी यह भी बताया कि जोगी परिवार को चुनाव से पृथक रखने के लिए यह साजिश रची गई है। चुनाव के बहिष्कार करने के सवाल पर उन्होंने कहा कि कि मरवाही विधानसभा चुनाव का बहिष्कार करने का सवाल ही नहीं उठता है।