जित्तू हथठेल/कोरबा। रोजगार सहायकों ने 2 सूत्रीय मांग को लेकर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के नाम कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा है।इस विषय में रोजगार सहायकों का कहना है कि महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार योजना के तहत वे विगत 12-13 वर्षों से बहुत ही कम मानदेय पर पूर्ण निष्ठा व विश्वास के साथ अपनी सेवाएं देते आ रहें हैं, जबकि विभाग में उच्च अधिकारियों से लेकर भृत्य तक ग्रेड पे पर अपना वेतन प्राप्त कर रहे हैं। वे मांगों को लेकर पूर्व सरकार को भी कई बार विभिन्न माध्यम से अवगत करा चुके है जिसका आज पर्यन्त तक कोई भी परिणाम नहीं निकल पाया है। वर्तमान सरकार द्वारा आशवस्त किया गया था कि हमारी सरकार आएगी तो समस्या का समाधान किया जाएगा । इन्हीं बातों को लेकर छत्तीसगढ़ रोजगार सहायक के प्रांतीप आह्वान पर महात्मा गांधी के 151 वीं जयंती के अवसर पर अपनी लंबित मांगों को लेकर मुख्यमंत्री छ.ग शासन ,पंचायत मंत्री छ.ग शासन को स्मरण दिलाते हुए मांगों को जल्द ही पूरा करने के लिए ज्ञापन सौंपा गया है।
ग्राम रोजगार सहायकों की प्रमुख मांगे: —
1. ग्राम रोजगार सहायकों का ग्रेड पे निर्धारण करते हुए नियमितीकरण का लाभ दिया जावे।

2. रोजगार सहायक द्वारा ग्राम पंचायत स्तर पर कराये जा रहे विभिन्न कार्य जैसे PMAY,स्वच्छ भारत मिशन बेस लाईन सर्वे ,14वें वित्त का कार्य इत्यादि को दृष्टिगत रखते हुए माध्यप्रदेश के तर्ज पर सहायक सचिव नियुक्त किया जावे।

3. पंचायत सचिव पद पर ग्राम रोजगार सहायकों को वरीयता के आधार पर सीधी नियुक्ति की जावे।